इन 10 वजह के चलते "Pakistan"ने डर के मारे रिहा किया हमारे Abhinandan को

भारतीय जवान अभिनंदन को कब्ज़े में लेकर पाकिस्तान जितना दहाड़ रहा था उसकी दहाड़ कुछ ही देर में भीगी बिल्ली की तरह हो गई जब मोदी सरकार ने चौतरफा पाकिस्तान को घेरना शुरू किया अमेरिका, फ्रांस, इसराइल, चीनी,रुश से बढ़ते दबाव के बाद उसे भारतीय शेर अभिनंदन को आखिरकार 1 मार्च को रिहा करना ही पड़ा मोदी की कूटनीति की यह 10 मुख्य वजह थी जिसकी वजह से भारत ने पाकिस्तान को झुक ने पर मजबूर कर दिया.
इन 10 वजह के चलते "Pakistan"ने डर के मारे रिहा किया हमारे Abhinandan को
Abhinandan 


  1. भारत ने दिल्ली स्थित पाकिस्तान के राजदूत को तलब कर भारतीय पायलट को रिहा करने की बात कही थी इसके अलावा पाकिस्तान सरकार को आधिकारिक पत्र भी लिखा था.
  2. पाकिस्तान ने खुद वीडियो जारी कर कहा था कि भारतीय पायलट उनके कब्ज़े में है जिसके बाद जेनेवा कन्वेंशन तहेत भारतीय पायलट को रिहा करने के अलावा कोई और विकल्प नहीं था
  3. पाकिस्तान इस बात से अच्छी तरह से वाक़िफ़ था कि भारत ना तो पायलट की रिहाई के मुद्दे पर पीछे हट रहा है और ना ही आतंकवाद पर हुई बालाकोट में कार्यवाही पर ही कमजोर पड़ रहा है,लिहाजा वह पायलेट के साथ कुछ गलत कर अपने हाथ नहीं जलाना चाहता था.
  4. पाकिस्तान इस बात को बेहद अच्छी तरह से जानता है कि जहां भारत के साथ इस मुद्दे पर पूरा विश्व खड़ा है वहीं पाकिस्तान का साथ केवल इस्लामिक देशों का संगठन ही दे रहा है लेकिन अबू धाबी 1 मार्च को जब इस्लामिक देशों के संगठन OIC की बैठक हुई तो उसमें भी तमाम मुस्लिम देशों के बीच भारत में इंट्री मार कर वहां से पाकिस्तान को हटने पर मजबूर कर दिया था.
  5. पाकिस्तान इस बात से भी अच्छी तरह से वाक़िफ़ है कि फ्रांस, अमेरिका, और ब्रिटेन ने संयुक्त राष्ट्र में जैश ए मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वैश्विक आतंकी घोषित करने का प्रस्ताव रखा है इस पर जल्द ही फैसला भी ले लिया जाएगा जिसके बाद उसे कार्यवाही पर मजबूर होना पड़ेगा
  6. हाल ही में चीन के वुझेन में हुई चीन,रूस और अमेरिका की बैठक में आतंकवाद के मुद्दे पर साथ देने की बात कही गई है पाकिस्तान को कहीं ना कहीं इससे डर लगा हुआ है की चीन इस मुद्दे पर उससे छिटक सकता है.
  7. पुलवामा हमले के बाद पाकिस्तान पर पूरे विश्व बिरादरी का दबाव है कि वह कोई कदम ऐसा ना उठाए जिससे तनाव बढे इसके अलावा पूरा विश्व चाहता है कि वह अपने यहां पर आतंकियों पर कड़ी कार्रवाई करें अमेरिका इस बारे में खुलकर पाकिस्तान को लताड़ भी चुका है
  8. आतंकवाद के मुद्दे पर पाकिस्तान को सऊदी अरब का भी साथ नहीं मिला है हालांकि सऊदी अरब के पाकिस्तान को आर्थिक संकट से उबारने के लिए बड़ी मदद की है लेकिन आतंकवाद के मुद्दे पर उसने भारत का साथ दिया है
  9. पाकिस्तान इस बात को अच्छे से जानता है कि यदि मसूद अजहर पर वैश्विक आतंकी होने की मुहर लग जाती है उसकी पूरी विश्व बिरादरी में काफी किरकिरी हो जाएगी इतना ही नहीं इसका आंसर दुरगामी होगा.
  10. बालाकोट में जिस तरह की कार्यवाही भारत ने की और इससे मसूद अजहर के करीबी रिश्तेदार मारे गए उसे पाकिस्तान को कहीं ना कहीं इस बात का भी डर सता रहा है कि कहीं ओसामा बिन लादेन पर हुई कार्यवाही की तरह ही भारत भी कोई कदम ना उठा ले यदि ऐसा हुआ तो पाकिस्तान को अपनी ही जनता को जवाब देना काफी मुश्किल हो जाएगा.
आपको बता दे के भारत की ओर से बढ़ते दबाव के बाद पाकिस्तान ने 1 मार्च को देर रात भारतीय पायलट अभिनंदन को रिहा कर दिया जिनका भारत में कदम रखते ही ज़ोरदार स्वागत किया गया बता दे कि भारतीय सीमा में घुसे पाकिस्तानी विमानों का पीछा करते हुए अभिनंदन वर्तमान अपने मिग 21 विमान से LOC के पार चले गए थे इसी दौरान उनका विमान क्रेश हो गया था जिसके बाद से ही वो पाक सेना की गिरफ़्त में थे.